इंटरनेट क्या है और उसके इतिहास

आप जरुर जानते होंगे अभी का जमाना है इंटरनेट का बहुत ज्यादा इस्तेमाल हो रहा है उसके साथ साथ इंटरनेट इस्तेमाल करने वाले उपभोक्ताओं का भी संख्या वह तेज गति से बढ़ने लग गया है। पर असल में क्या आप जानते हैं क्या इंटरनेट होता क्या है। यह काम कैसे करता है। एक डिजिटल जमाना कि लोग होने के नातिर आपको इंटरनेट के बारे में जानना बेहद जरूरी है।

हेलो दोस्तों और एक नई लेख पर आपका बहुत-बहुत स्वागत है। उम्मीद है कि आप सब अच्छे होंगे। आज हम देखने वाले हैं क्या इंटरनेट क्या है और इंटरनेट के इतिहास के बारे में। तो बिना देर किए आया देख लेते हैं कि इंटरनेट क्या है

इंटरनेट क्या है

Internet एक global wide area network हैं जो पूरे दुनिया भर का कंप्यूटर सिस्टम को एक साथ connect करके रखा है। यह दुनिया का सबसे बड़ा नेटवर्क में से एक है इसलिए इसको World Wide Web(WWW) ओर Web बोला जाता है।

इंटरनेट की परिभाषा

इंटरनेट का पूरा नाम International Network है। इंटरनेट एक नेटवर्क के बीच Interconnected होने वाला एक Colletion है जिसको नेटवर्क का नेटवर्क बोला जाता है। Internet राउटर और गेटवे की माध्यम से पूरे दुनिया भर में कनेक्ट होता है। 1950 में Vint Serf के द्वारा इन्टरनेट सुरु हुआ था। Vint Serf को Internet का पिता नाम से भी जाना जाता है।

Vint Serf - इंटरनेट का बाप
Vint Cerf

Internet कब सुरु हुआ था?

Internet January 1, 1983 को शुरू हुआ था जब ARPANET ने TCP/IP को Adopt किया था। उसके बाद वैज्ञानिकों ने इसको को Assemble करना शुरू कर दिया। पहले ये “Network Of Network’s” नाम तू जाना जाता था फिर बाद में जाकर इसको Internet की नाम पे जाना गया। हमारा देश भारत की बात किया जाता भारत में इंटरनेट का इस्तेमाल VSNL (Videsh Sanchar Nigam Limited) के द्वारा 14 August 1945 को हुआ था।

इंटरनेट (Internet) के इतिहास

जिससे कि हम पहले जाना इंटरनेट को ARPANET(Advance Research Project Agency Network) के द्वारा लाया गया था। 1969 में ARPANET US military का एक हिस्सा था।

इंटरनेट को शुरू में गुप्त डाटा (Secret Information) शेयर करने के लिए इस्तेमाल किया गया था और उनका नाम दिया गया था ARPANET. पहले पहले इसको अमेरिका के 5 बड़े बड़े यूनिवर्सिटी का सिस्टम को एक साथ कनेक्ट किया गया था। 1972 तक यह दुनिया का कई देश के साथ जुड़ गया था। पहले पहले इसको एक Private Network की तरह इस्तेमाल कर जाता था पर बाद में जाके इसको सभी के लिए उपलब्ध करा दिया गया।

Internet काम केसे करता है?

इंटरनेट काम केसे करता है
internet काम केसे करता है

Internet कनेक्शन के साथ जुड़ने के लिए जितना भी कंप्यूटर होते हैं वह सब आपस में छोटे-छोटे नेटवर्क्स के द्वारा जुड़े होते हैं। और यह पर जितना भी छोटे छोटे सपने सच होते हैं यह सब कई प्रकार के राउटर और Gateway के साथ जुड़े हुए होते हैं।

कंप्यूटर Internet में कम्युनिकेट करने के लिए TCP/IP का इस्तेमाल करते हैं जो की एक Basic Protocols होते हैं। TCP/IP इंटरनेट में जितना भी Transmission होते हैं सभी को Control करते हैं और यह सब किसी प्रकार के डाटा, फाइल और डॉक्यूमेंट के द्वारा उपलब्ध होते हैं। यह सब छोटे-छोटे Parts में विभाजित होते हैं जिसको Packets बोला जाता है।

इंटरनेट की विशेषताएं

  • Accessibility– इंटरनेट का सर्विस पूरे विश्व में को लाभ होता है और अब विश्व में जहां पर भी हो आप इसको इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • Easy to Use– Internet का इस्तेमाल करना बहुत ही आसान है Internet इस्तेमाल करने के लिए जो भी सॉफ्टवेयर का डिजाइन किया जाता है उसका इंटरफेस भी बहुत आसान होता है जैसे कि सभी प्रकार के लोग इसको इस्तेमाल कर सकें।
  • Interaction– इसके द्वारा हम किसी के साथ भी आसानी से कनेक्ट हो सकते हैं। और सोशल मीडिया ने इसको और भी आसान कर दिया है।
  • Low Cost– internet का development ओर maintenance budget काफी काम है।
  • दुनिया में उपलब्ध आईटी तकनीकों का विस्तार और भी अच्छे तरीके से किया जा सकता है।
  • Flexibility of Communication– इंटरनेट में किसी के साथ भी कम्युनिकेट करना बहुत Flexible तो है जैसे कि आप जिस माध्यम से चाहते हैं उस माध्यम से एक व्यक्ति के साथ कम्युनिकेट कर सकते हैं जैसे कि टेक्स्ट हो गया या वीडियो हो गया या फोटो के माध्यम से आप किसके साथ अच्छे तरीके से कम्यूनिकेट करसकते हो।
  • Security

इंटरनेट का इस्तेमाल

  • किसी दूसरे व्यक्ति को मेल भेजने के लिए
  • कोई भी चीज के ऊपर कुछ जानकारियां रिसर्च करने के लिए
  • इंटरनेट से किसी प्रकार की डॉक्यूमेंट जैसे कि ऑडियो वीडियो पिक्चर इत्यादि को डाउनलोड और अपलोड करने के लिए
  • ऑनलाइन काम जैसे कि बैंकिंग ऑनलाइन शॉपिंग मोबाइल रिचार्ज ट्रेन टिकट बुकिंग टिकट बुकिंग इत्यादिजॉब ढूंढने के लिए
  • शिक्षा और आत्म-सुधार(Self-improvement) के लिए

ऐसे बहुत सारे सुनाएं हैं जो हम Internet के माध्यम से कर सकते हैं। जेसे कि आप जानते होंगे कि एक चीज का अच्छाई है तो उसका बुराई भी है। यह आपके ऊपर निर्भर करता है कि आप Internet को किस तरह से इस्तेमाल करेंगे। Internet का गलत इस्तेमाल करने से आपको बाद में जाकर तेरे सनी जाना पड़ सकता है।

Internet Connection के प्रकार(Types Of Internet Connection)

बहुत प्रकार के Internet Connection होते हैं जिसको आप अपने डिवाइस के साथ कनेक्ट कर सकते हैं। यह अलग-अलग हार्डवेयर का इस्तेमाल करते हैं जिसका अलग Range और अलग Connetion Speed होता है। जैसा टेक्नोलॉजी मैं बदलाव आते जा रहे हैं हमको ज्यादा Faster Internet Connetion की जरूरत पड़ रही है। तो आइए देख लेते हैं इंटरनेट के कुछ प्रकार के बारे में।

  • Dial-Up(डायल-अप)कनेक्शन
  • DSL कनेक्शन (Digital Subscriber Line)
  • केबल कनेक्शन
  • फाइबर कनेक्शन
  • वायरलैस कनेक्शन
  • वायरलैस DIA (Direct Internet Access)
  • सैटेलाइट कनेक्शन
  • सेल्यूलर या मोबाईल टेक्नोलोजी कनेक्शन

फायदा

यदि आप इंटरनेट को सही दिशा में वह सही तरह से इस्तेमाल करते हैं तो आप उसकी मदद से बहुत कुछ कर सकते हैं आइए उनके ऊपर कुछ लाइन देख लेते हैं।

  • Internet को हम ज्यादातर सोशल मीडिया कॉल करने के लिए शिक्षा मनोरंजन ऑनलाइन जानकारी लेने के लिए इस्तेमाल करते हैं।
  • आप Internet की मदद से किसी भी चीज के ऊपर कुछ जानना हो तो आप आराम से उसके बारे में जानकारी ले सकते हैं।
  • आप आसानी से Internet के द्वारा पढ़ाई या कुछ रियर्च कर सकते हैं।बहुत सारे ऑनलाइन काम जैसे कि कुछ शॉपिंग करना, मोबाइल रिचार्ज करना, टिकट बुक करना, इंटरनेट बैंकिंग करना, इत्यादि बहुत सारे काम Internet के इस्तेमाल से आप आसानी से कर सकते हैं।
  • Internet के माध्यम से आप आपका डाटा को क्लाउड स्टोरेज सर्विस में अपलोड कर सकते हैं और अपने डेटा को डिलीट होने से बचा सकते हैं।

नुकसान

  • सभी चीज का एक सीमा होती है यदि आप हद से ज्यादा Internet का इस्तेमाल करते हैं तो आपको इंटरनेट का लत लग सकती है और आप अपना कीमती समय को बर्बाद भी कर सकते हैं।
  • इंटरनेट में प्रकाशित सभी प्रकार के तथ्य सत्य नहीं होती। कुछ लोग जान बूझकर यहां पर मिथ्या खबर को प्रकाशित करते हैं। इससे आपको कभी-कभी गलत तथ्य भी मिल सकती हैं।
  • यदि आप अपने डाटा को इंटरनेट में ठीक तरह से सिक्योर करके नहीं रखते हैं तो आपका डाटा hackers के द्वारा चोरी भी हो सकती है।

Conclusion

आज हमने सीखा कि Internet क्या होता है और Internet के बारे में बहुत सारे तथ्य। यदि आपको हमारा यह लेख अच्छा लगता है तो आप अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें। इंटरनेट को लेकर यदि आपका मन में कोई द्विधा है या और भी ज्यादा जानकारी देना चाहते हैं तो आप हमारे कमेंट बॉक्स में जरूर दीजिए। धन्यवाद।

2 thoughts on “इंटरनेट क्या है और उसके इतिहास”

    • बहुत बहुत शुक्रिया रोहित। मैं आपका भी वेबसाइट देख रहा था आप भी बहुत अच्छे-अच्छे पोस्ट लिख रहे हो। आप भी ऐसे अच्छे-अच्छे पोस्ट लिखते रहो।

      Reply

Write some interesting