Google web stories kya hai/ What is google web stories in Hindi

Google Web Stories का मतलब है गूगल में जाकर स्टोरी लगाना, मतलब हम जैसे ही व्हाट्सएप, इंस्टाग्राम, फेसबुक पर स्टोरी लगाते हैं, ठीक वैसे ही आप गूगल पर भी स्टोरी लगा सकते हैं या देख सकते हैं। इसी स्टोरी में आप अपने लिंक भी दे सकते हो जिस के जरिये लोग आपकी वेबसाइट में visit कर पाएंगे। Web Stories नेटिव रिपोर्टेड फॉर्मेट में होता है और टेक्स्ट के बजाए कलरफुल बैकग्राउंड इमेजेस और एनिमेशन पर डिपेंड करती है।

Google web stories guidelines in Hindi

  • आपको किसी दूसरे की content नहीं डालना है कॉपी करके चाहे वह इमेजेस हो या फिर ट्रैकस्टॉप आप अपनी खुद का एडिट किया हुआ इमेज लगाकर स्टोरी क्रिएट करना है और अगर आप किसी दूसरे का कंटेंट कॉपी करके लगाते हो तो आपका स्टोरीज ब्लॉक हो जाएगी। किसी दूसरे को दिखा नहीं पाओगे।
  • आपको बहुत ज्यादा टेक्स्ट इस्तेमाल नहीं करना है। नहीं तो स्टोरी देखने में अच्छा नहीं लगेगा। आपको 180 से कम टैक्स इस्तेमाल करना है जिसके जरिए आपका स्टोरी बहुत ही शानदार लगेगा।
  • आपका स्टोरी में लो क्वालिटी का इमेजेस और वीडियो लगाने के लिए मना किया गया है क्योंकि लो क्वालिटी का इमेजेस या वीडियो सामने से लोगों का खराब इंप्रेशन आता है। इसी लिए आपको हाई क्वालिटी और अच्छी फोटो लगाना है।
  • निचे दिया गया फोटो में क्लिक करके आप एक डेमो भी देख सकते हैं
https://computershiksha.in/web-stories/google-web-stories-guidelines-in-hindi/
web story
  • आपके स्टोरी में मिनिमम 5 मैक्सिमम 30 पेजस होना चाहिए।
  • आपका स्टोरी कंपलीटली शेयर करना है। ऐसा नहीं कि आधा शेयर करके बाकी को नहीं करोगे। ऐसा बिल्कुल भी नहीं करना है। आपको पूरा करना पड़ेगा जरूर!
  • अगर आप किसी भी कंटेन का 5 टिप्स देने के लिए बोलते हो तो आपको पूरा 5 टिप्स ही देना पड़ेगा। ऐसा नहीं कि 3 टिप्स बताकर और बाकी 2 टिप्स बताया नहीं।
  • आपके स्टोरी का कुछ वैल्यू होना चाहिए। ऐसा नहीं कि पैसा कमाने के चक्कर में किसी भी तरह का स्टोरी डाल दोगे। आपको वैल्युएबल चीज डालना पड़ेगा जो कि पब्लिक का फायदा हो सकता है।
  • स्टोरी में अगर आप कोई भी वीडियो डालते हो तो वह 15 सेकंड से कम होना चाहिए। अगर 15 सेकंड से ज्यादा होगा तो 15 सेकंड के बाद जो वीडियो है, उसका वीडियो नहीं सो करेगा।
  • आपके वीडियोस और फोटो सारे पोट्रेट मूड में होना चाहिए लेंसकैपे के बिल्कुल भी नहीं जैसे टिक टॉक में या इंस्टाग्राम पर रील आता है ठीक वैसे ही होना चाहिए।
  • आपके स्टोरी में कैप्शन लगाना जरूरी है क्योंकि अगर कोई आपका स्टोरी देख रहा है और वह एक साउंड वाले जगह पर है जहां पर आप के वीडियो का साउंड उनको सुनाई नहीं दे रहा है तो हो आप का कैप्शन देखकर भी उसको समझ में आ जाएगी। यह वीडियो किसी रिकॉर्डिंग है।
  • एक स्टोरी में सिर्फ एक ही लिंग लगाना है। चाहे वह प्लेट का लिंक हो या आपका वेबसाइट का लिंक हो।

Google web stories example

https://computershiksha.in/web-stories/xiaomi-miui-13-features/
web stories example

MS Word में Resume कैसे बनाए

Google web stories banane ke liye konsa plug in chahiye/ google web stories plugin for wordpress

इसको बनाने के लिए आपको आपकी plugin पर जाकर ऐड प्लॉगइन पर जाकर आपको सर्च करना है वेव स्टोरीज, फिर वहां पर आ जाएगा जिसको इंस्टॉल करके एक्टिव कर देना है। उसके बाद उसी प्लॉगइन के सहायता से आप स्टोरीज क्रिएट कर सकते हो।

plugin for web stories
web stories plugin

Google web stories kaise banaye

Step1- पहले आपको अपना वर्डप्रेस कैडैशबोर्ड पर जाना है। वहां पर आपको प्लॉगइन पर जाना है। वहां पर आपको वेब स्टोरीज plugin को इंस्टॉल कर देना है। इंस्टॉल होने के बाद अब एक्टिव भी कर देना है।

Step2- अब आपको स्टोरीज के डैशबोर्ड में एक सेटिंग ऑप्शन में जाकर वहां पर गूगल एनालिटिक्स का कोड डाल देना है और लोगो को दे देना है 96*96 पिग्सल का। नीचे तीन ऑप्शन आएगा, उसी तीन ऑप्शन को ऑन रखना है। फिर थोड़ा नीचे जाकर मोनेटाइजेशन भी दे सकते हो।

Step3- अगर ऐडसेंस डालते हो तो आपको वहां पर कोड डालना पड़ेगा और आपका स्लॉट आईडी भी देना पड़ेगा जो वेब स्टोरी होंगे उस पर भी adds देखने को मिल जाएगा।

Step4- आपका सारा सेटिंग हो चुका है। अब आपको स्टोरी क्रिएट करना है। वहां पर आपको बहुत सारे टेंपलेट मिल जाएगा। जिस के थ्रू आप डिजाइन कर सकते हो और अगर आप खुद का बनाकर यूज करना चाहते हो तो भी बना सकते हो। क्रिएट न्यू स्टोरी ऑप्शन पर क्लिक करके।

Google Web Stories Editing Time
Google Web Stories Editing Time

Step5- जैसे ही आप क्रिएट न्यू स्टोरी ऑप्शन पर क्लिक करोगे, अब आपको डैश बोर्ड ओपन हो जाएगा जहां से आपका बोहोत सारे ऑप्शन होगा। डिजाइन के लिए वहां पर आप स्टोरी बना सकते हो।

5G Technology kya hai aur 5G Advance Features

Google web stories ka kya kya fyda hai

गूगल वेब स्टोरीज में डेली मिलियंस में इंप्रेशन आता है। इसके जरिए आप अपने वेबसाइट का ट्राफिक बढ़ा सकते हो। अगर आपकी वेबसाइट ब्लॉगर, वर्डप्रेस में है या किसी दूसरे प्लेटफार्म में भी है तो आप इजीली स्टोरी लगा सकते हो। इसमें आप गूगल ऐडसेंस कि adds भी लगा सकते हैं। अगर आप गूगल का गाइडलाइन फॉलो करते हैं तो डेफिनेटली फास्ट या सेकंड डे से आपका ट्रैफिक आना स्टार्ट हो जाएगा।

Mobile se web stories kaise banaye

वेब स्टोरीज लगाने के लिए सबसे पहले आपको गूगल से वर्ड प्रेस स्टोरीज plugin डाउनलोड करना पड़ेगा। डाउनलोड करने के बाद यह plugin सिद्धा आपके वेबसाइट में इंस्टॉल हो जाएगा। फिर आपको आपके वेबसाइट में लेफ्ट साइड 3 लाइन पर क्लिक करना है। फिर आपको स्टोरीज का ऑप्शन दिखेगा। यह ऑप्शन के अंदर आप अपना स्टोरीज का सारा डिजाइन कर सकते हो।

Google web stories Ads

आप जो भी फ्लॉगइन इस्तेमाल करते हो उसके सेटिंग में जाना है। नीचे आपको मोनेटाइजेशन का ऑप्शन मिलेगा वहां पर आप गूगल एडसेंस सिलेक्ट कर देना है। उसके बाद नीचे आपको आपकी ऐडसेंस आईडी की पब्लिशर डाल देना है। उसके बाद थोड़ा नीचे स्लॉट आईडी डालनी है और सेव कर देना है।

google web stories adsense ads
google web stories Adsense Ads

Google web stories seo in Hindi

Web stories  वास्तव में हुड के तहत web पेज हैं। इसका मतलब है कि आपको seo के बारे में सोचने की जरूरत है, यदि आप चाहते हैं कि आपकी story को अनुक्रमित किया जाए और search इंजनों द्वारा खोजा जाए। आपका सबसे बड़ा उपाय यह होना चाहिए कि आपको अपनी वेबसाइट के किसी भी अन्य पेज के लिए सभी SEO सामान करने चाहिए।

अगर यह आपके गैर-कहानी पृष्ठों को रैंक करने में मदद करता है तो यह शायद कहानियों की भी मदद करेगा। सुनिश्चित करें कि आपकी कहानियां आपकी वेबसाइट के भीतर से जुड़ी हुई हैं ताकि आपके उपयोगकर्ता और बॉट वास्तव में उन्हें खोज सकें।यदि आप साइटमैप का उपयोग कर रहे हैं, तो उस साइटमैप में अपनी story को शामिल करना सुनिश्चित करें। यदि आप अपने नियमित वेब पेज सोशल मीडिया पर पोस्ट कर रहे हैं, तो अपनी कहानियां भी पोस्ट करें।

Portrait poster आपकी story के मुख्य दृश्य का प्रतिनिधित्व करता है और स्पष्ट रूप से story की सामग्री से संबंधित होना चाहिए। यह बहुत महत्वपूर्ण है कि यह crisp और high resolution वाला हो। Google minimal cropping  के साथ 640*853 पिक्सेल के रिज़ॉल्यूशन के साथ 3*4 को मध्य मैदान के रूप में encourage करते हैं। Truncation से बचने के लिए अपनी story को 40 characters से कम में एक स्पष्ट और सुपाच्य title दें।

Google आपकी वेबसाइटों में stories को deeply integrating करने की recommend करते हैं, जैसे कि उन्हें अपने होमपेज या category pages से लिंक करना जहां applicable हो।किसी story के URL में यह indicate करने की कोई आवश्यकता नहीं है कि वह web stories के fromat का उपयोग कर रही है। आदर्श रूप से आपकी story को एक wider URL कार्यनीति में एकीकृत किया जाता है।

वे आपकी सामग्री की पहुंच और अनुक्रमणीयता के लिए अनुकूलित करने के लिए जहां उपयुक्त हो वहां सार्थक वैकल्पिक पाठ जोड़ने की पुरजोर अनुशंसा करते हैं। और जबकि वीडियो वैकल्पिक टेक्स्ट का समर्थन नहीं करते हैं, वीडियो का वर्णन करने के लिए शीर्षक विशेषता का उपयोग करना एक अच्छा विचार है। कोई भी वेब पेज, जो आपके users के लिए उपयोगी और दिलचस्प उच्च गुणवत्ता वाली सामग्री प्रदान करता है और हमेशा सबसे महत्वपूर्ण एसईओ रणनीति होगी।

गूगल वेब स्टोरीज कहाँ दिखती हैं

स्टोरीज देखने के लिए पहले आपको गूगल पे जाना है, वंहापे आपको थोड़ा स्क्रॉल करके नीचे जाना है वंहापे आपको सारी स्टोरी दिख जाएगा। अगर आप किसी एक स्टोरी पे क्लिक करोगे तो आपको एक के बाद एक स्टोरी दिखेगा।

गूगल वेब स्टोरीज में पोस्टर इमेज का साइज़ कितना होना चाहिए?

गूगल वेब स्टोरीज में पोस्टर इमेज का साइज़ 640*853 पिक्सेल के रिज़ॉल्यूशन के साथ 3*4 को मध्य मैदान के रूप में encourage करते हैं।

क्या गूगल वेब स्टोरीज़ सिर्फ wordpress ब्लॉग पर ही बनाई जा सकती है?

आप गूगल वेब स्टोरीज को सिर्फ वर्डप्रेस से ही नही बल्कि आप ब्लॉगर प्लेटफार्म पे भी बना सकते हो।

saktiprasad

में एक SEO लेखक हूँ। मुझे कम्प्युटर के बारे में रिसर्च करना और दूसरों के साथ शेयर करना अच्छा लगता है। फिलहाल के लिए में कम्प्युटर शिक्षा में लिखता हूँ। इसके अलावा में दूसरों के लिए भी SEO लिखता हूँ। आप मुझे मेरा सोशल मीडिया पर फॉलो करसकते हें।

saktiprasad has 33 posts and counting. See all posts by saktiprasad

Leave a Reply

Your email address will not be published.