hardware kise kahate hain

आज हम जानने वाले है hardware kise kahate hain। आज का जमाना, टेक्नोलॉजी का जमाना है. आज के जमाने में कंप्यूटर के बारे में जानना बहुत जरूरी है। कंप्यूटर के बारे में जानना जीतना जरूरी है उसके अंदर होने वाले पार्ट्स को भी जानना बहुत जरूरी है। आज हम जानेंगे कंप्यूटर के hardware kise kahate hain बारे में जानने के लिए आप यहां पर आए हो। तो बिना देर किए आइए देखते हैं.

hardware kise kahate hain

कंप्यूटर का एक कोई भी physical part हो जिसको hardware kahate hain. अगर आपके पास हार्डवेयर ना हो तो आप कंप्यूटर को चला नहीं पाओगे क्योंकि एक कंप्यूटर को चलाने के लिए सॉफ्टवेयर जितना जरूरी है उतना जरूरी हार्डवेयर का भी है। सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर दोनों एक दूसरे के बिना अधूरे हैं अगर सॉफ्टवेयर है हार्डवेयर नहीं है या फिर हार्डवेयर है सॉफ्टवेयर नहीं है तो भी कंप्यूटर चलाना असंभव।

Hardware components
Hardware

कंप्यूटर हार्डवेयर को मुख्य रूप में दो भागों में विभाजित किया गया है एक है इंटरनल हार्डवेयर दूसरा है एक्सटर्नल हार्डवेयर

Internal hardware kise kahate hain

एक सिस्टम के अंदर जो हार्डवेयर रहता है उसी को ही इंटरनल हार्डवेयर  कहा जाता है। इसी हार्डवेयर को आप बाहर से नहीं देख सकते उनको देखने के लिए या फिर छूने के लिए सिस्टम को खोलना पड़ेगा उसी के बाद जाकर आप इसको देख सकते हो।

इंटरनल हार्डवेयर
Internal hardware

हम इंटरनल हार्डवेयर को कभी देखते नहीं पर अगर एक कंप्यूटर के अंदर इंटरनल हार्डवेयर ना हो तो कंप्यूटर बिल्कुल अधूरा है मतलब कंप्यूटर को आप चला नहीं पाओगे। आइए जानते हैं इंटरनल हार्डवेयर की कुछ उदाहरण के बारे में

CPU

CPU एक इलेक्ट्रॉनिक माइक्रोचिप है जो कि कंप्यूटर में होता है उसी को सीपीयू कहते हैं । इसका काम होता है डाटा को प्रोसेस करके और इंफॉर्मेशन को हम तक पहुंचाना । इसको कंप्यूटर का brain भी कहते हैं क्योंकि पूरे कंप्यूटर को कंट्रोल करने के काम सीपीयू करता है। यह hardware का एक ऐसा भाग है जो कंप्यूटर में सभी तरह का application software और प्रोग्राम को run करने में मदद करता है।

यह लगातार ऑपरेटिंग सिस्टम और application को चलाता रहता है । यह कंप्यूटर सिस्टम के सभी task जैसे कि Arithmetical, logical and input, output operation को भी संभालता है ।

Motherboard

ये कंप्यूटर का एक मुख्य भाग होता है जिसमें सारे hardware component कनेक्ट होता है इसको PCB(Printed Circuit Board) भी कहा जाता है, इसमें हर एक डिवाइस कनेक्ट होता है जैसे कि mouse, keyboard, RAM,SMPS, processor, etc.

यह सिस्टम यूनिट के अंदर स्थापित कंप्यूटर का एक हार्डवेयर है। यह MOBO हार्डवेयर मुख्य बोर्ड या कंप्यूटर सिस्टम यूनिट के control or core assembly के रूप में कार्य करता है।

एक मदरबोर्ड कंप्यूटर सिस्टम के सबसे आवश्यक भागों में से एक है। यह कंप्यूटर के कई महत्वपूर्ण component को एक साथ रखता है, जिसमें Central Processing Unit (CPU), इनपुट और आउटपुट डिवाइस के लिए मेमोरी और कनेक्टर शामिल हैं।

RAM

RAM(Random Access Memory) कंप्यूटर का एक मेमोरी है। यह एक कंप्यूटर का हार्डवेयर डिवाइस है जो ऑपरेटिंग सिस्टम के द्वारा कार्य करता है। जब हम कंप्यूटर को उपयोग करते हैं उसी समय यह डाटा को स्टोर करता है और जब हम कंप्यूटर को shutdown करते हैं तो सभी डाटा डिलीट हो जाता है। अगर हम इसका आकार की बात करें तो यह बहुत छोटा होता है लेकिन इसके अलावा बहुत तेज भी होता है इसी के वजह से expensive भी होता है अगर storage के साथ तुलना करोगे तो।

ROM

ROM का फुल फॉर्म है Read Only Memory, इसको प्राइमरी मेमोरी भी कहा जाता है और इसको Read Only Memory  कहने का मतलब है यह प्रोग्राम को और डाटा को सिर्फ पड़ सकता है मगर लिख नहीं सकता इसलिए।ये कंप्यूटर का एक स्थाई मेमोरी है कंप्यूटर जॉब बनाता है तो इसी प्रोग्राम बनाता है तो इसी प्रोग्राम को स्थाई तौर पर इंस्टॉल कर देती है है कर देती है।

यह चीप एक non-volatile memory है,मतलब अगर हमने कंप्यूटर को ऑफ भी कर कर भी कर कर ऑफ भी कर कर भी कर कर दिया तो हमारा कंप्यूटर में जो भी डाटा था वो नुकसान नहीं होगा बिल्कुल सेफ रहेगा।

Graphic card

Graphic card एक electronic card या hardware component होता है।ये आपके कंप्यूटर,लैपटॉप,स्मार्टफोन में भी होता है। सिस्टम जब खरीद ते है तो बोट के साथ ही graphic card लगा होता है।

हम सिस्टम में जभी भी वीडियो play करते हैं,अगर वो normal वीडियो है तो आसानी में लैपटॉप या डेस्कटॉप में play हो जाता है लेकिन जभी भी हम कोई कोई hd video चलाते हैं तो उसमें spot टाइप का या फिर अटक अटक के चलता है तो उसी जगह पर ग्राफिक कार्ड का इस्तेमाल किया जाता है ताकि वह वीडियो सही से चल सके बिना कहीं पर रुके।

Sound card

यह एक तरह का कार्ड होता है जो कि साउंड को मैनेज करने में मदद करता है। जैसे कंप्यूटर में किसी भी चीज देखने के लिए एक ग्राफिक कार्ड की जरूरत होती है ठीक वैसे ही किसी भी चीज को साउंड करने के लिए साउंड कार्ड की जरूरत होती है।

SMPS

SMPS का पूरा नाम है Switch Mode Power Supply. यह एक इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस को 220 से 240 की voltage पर काम करने में मदद करता है। अगर हम कंप्यूटर की बात करें तो सीधे कंप्यूटर बोर्ड को 240 volt की बिजली supply की जाए तो यह जल जाएगा या फिर ब्लास्ट हो जाएगा और बोर्ड जो है वह नष्ट हो जाएगा। तो इन सभी परेशानियों से बचने के लिए SMPS बनाया गया जोकि 220 volt की supply देने के बाद उसको कोई voltage में डिवाइड करके अलग-अलग भागों में भेजा जाता है।

NIC

NIC का पूरा नाम है Network Interface Card. ये एक हार्डवेयर डिवाइस है जो कि node को नेटवर्क में कनेक्ट करने में इस्तेमाल किया जाता है। ये motherboard के अंदर देखने को मिलेगा।

External hardware kise kahate hain

External hardware को हम peripheral components भी कहते है।ये बाहर से कंप्यूटर के साथ जुड़े होते है।जिनमे इनपुट ओर आउटपुट डिवाइस शामिल होते है। आईये जानते है कुछ external hardware के उदाहरण के बारेमे,

External hardware components
External hardware

Monitor

मॉनिटर एक आउटपुट डिवाइस है। इसको Visual Display Unit (VDU) भी कहा जाता है।यह दिखने में एक TV की तरह दिखता है।मॉनिटर सबसे महत्वपूर्ण आउटपुट डिवाइस है। ये आउटपुट डिवाइस को अपने screen पर softcopy के रूप में प्रदर्षित करता है।

Mouse

Computer mouse एक इनपुट डिवाइस है जिसके माध्यम से हम कम्प्युटर को कुछ instruction देते हें या कुछ फ़ाइल को सिलैक्ट करते हें। ये उस pointer/crusher को कंट्रोल करता है जो हमारी कम्प्युटर के screen पर दिखाई देता है। mouse के सहायता से हम किसी भी प्रकार के फ़ाइल को open कर सकते हें या close भी कर सकते हें तथा उसके सहायता से हम files को एक से दूसरे जगह तक transfer भी कर सकते हें।

Keyboard

कीबोर्ड जो होता है वह एक यंत्र होता है या एक इनपुट डिवाइस होता है जो कंप्यूटर काम करते समय बहुत ही बड़ा भूमिका निभाता है। कंप्यूटर के लिए कीबोर्ड बहुत ही special है क्योंकि कंप्यूटर में जो भी काम करते हैं सब कीबोर्ड के द्वारा ही करते हैं। इसका मतलब है कि अगर कुछ text लिखाना हो या फिर कुछ टाइप करना हो तो हम कीबोर्ड के माध्यम से ही कर सकते हैं और भी बोहोत कुछ कर सकते है।

Printer

ये एक आउटपुट डिवाइस है।ये कंप्यूटर से प्राप्त जानकारी को कागज में छपता है।कागज पर आउटपुट की यह प्रतिलोपी को hard copy केहलाता है ।ये एक ऐसा मशीन है जो किसी भी document को अपने कंप्यूटर पर प्रिंट करता है।

Speaker

ये एक ऐसा आउटपुट डिवाइस है जिसका काम होता है आवाज़ को बाहर निकलना।जब आप अपनी कंप्यूटर में कोईभी चीज़ play करेंगे (audio, video, game) तो उसके आवाज़ को हमारे तक पोहोंचाने काम speaker का होता है।

Power supply

बिजली की आपूर्ति एक इलेक्ट्रॉनिक उपकरण है जो विद्युत भार को विद्युत ऊर्जा की आपूर्ति करता है।विद्युत आपूर्ति का प्राथमिक कार्य विद्युत ऊर्जा के एक रूप को एंथोर अंत में परिवर्तित करना है।परिणामस्वरूप बिजली की आपूर्ति कभी-कभी विद्युत शक्ति कनवर्टर के रूप में संदर्भित की जाती है।कुछ बिजली की आपूर्ति असतत स्टैंडअलोन(Standalone) डिवाइस हैं, जबकि अन्य अपने लोड के साथ बड़े डिवाइस में निर्मित हैं।प्रत्येक बिजली आपूर्ति को उस ऊर्जा को प्राप्त करना होगा जो उसके भार को आपूर्ति करती है।

कौन हार्डवेयर इंजीनियर बन सकता है

कंप्यूटर हार्डवेयर इंजीनियर बनने के लिए आपको 12th पास होना जरूरी है साथ में Math and English subject होना चाहिए,सबसे बड़ी बात है कि आपको कंप्यूटर में इंटरेस्ट होना जरूरी है और English का ग्यान भी होना जरूरी है।

Hardware engineer
Hardware engineer

हार्डवेयर इंजीनियर बनने के लिए कोनसा कोर्स करना पड़ता है

कंप्यूटर हार्डवेयर इंजीनियर बनने के लिए आपको 2 साल का डिप्लोमा कोर्स करना है या फिर आप 3 से 4 साल का डिग्री कोर्स भी कर सकते हो। इंजीनियर बनने के लिए हार्डवेयर नेटवर्किंग कोर्स, हार्डवेयर डिप्लोमा कोर्स,कंप्यूटर CALC कोर्स,कंप्यूटर माइक्रो प्रोसेसिंग कोर्स ,इन्ही चार में से एक कोर्स करना पड़ेगा।

कंप्यूटर हार्डवेयर इंजीनियर का सैलेरी

शुरुआत में कंप्यूटर हार्डवेयर इंजीनियर को 15000 से 25000 तक का मिलेगा जैसे-जैसे आप का एक्सपीरियंस बढ़ता है वैसे-वैसे सैलरी भी बढ़ता जाएगा। अगर आप आपका खुद का कंप्यूटर हार्डवेयर का shop करते हो तो आप अच्छी खासी कमाई कर सकते हो।

Best networking books in Hindi

नेटवर्किंग एक बेसिक होता है जिसके जरिये आप फील्ड को मूव कर सकते हो जैसे कि हमारा माइक्रोसॉफ्ट सर्वर है। नेटवर्किंग सीखने के लिए मैं आपको टॉप फाइव बुक रेकमेंडेड करना वाला हूं जो कि डेफिनेटली आपको नेटवर्किंग का नॉलेज अच्छा खासा प्रोवाइड कर देगी जिसके कारण आप अपना बेस अच्छा बना सकते हैं और आने वाले जो भी आप स्टार्ट करने वाले हैं आप बिल्कुल इजी तरीके से स्टार्ट कर सकते हैं।

  1. Comptia study guide
  2. 101 LABS Comptia Network+
  3. Cert guide (Comptia network + N10-007)
  4. Networking Dummies
  5. Networking made easy

आज अपने क्या सीखा

आज हमने जाना hardware kise kahate hain, उमीद करता हूँ कि आपको ये लिख समझ मे आया होगा और पसंद भी। हम हमेशा कोशिस करते है कि आपके जरिये ऐसेही बेहतरीन लिख पोहोंचाने के लिए। अगर आपको ये लिख पसंद आया हो तो नीचे जरूर बताएं ओर आप ये लिख के बारेमे कुछ ज्ञान बाटना चाहते है तो कमेंट में जरूर बताएं। धन्यबाद

saktiprasad

में एक SEO लेखक हूँ। मुझे कम्प्युटर के बारे में रिसर्च करना और दूसरों के साथ शेयर करना अच्छा लगता है। फिलहाल के लिए में कम्प्युटर शिक्षा में लिखता हूँ। इसके अलावा में दूसरों के लिए भी SEO लिखता हूँ। आप मुझे मेरा सोशल मीडिया पर फॉलो करसकते हें।

saktiprasad has 33 posts and counting. See all posts by saktiprasad

Leave a Reply

Your email address will not be published.