server क्या है? 7 Different types of servers in Hindi

आप कभी ना कभी server के बारे में जरूर सुना होगा। जब server का नाम आता है तब कोई सारे Terms जैसे कि server down, server fail, server busy यह सब आपकी नजर में आता है। असल में server क्या है और यह कितने प्रकार के होते हैं? आज का लेख में हम यह सब जानने वाले हैं तो बिना देर किए चलिए देख लेते हैं Server क्या है?

Server क्या है

हर दिन इंटरनेट में कुछ ना कुछ चीज अपलोड होती रहती है। तो क्या आप जानते हैं यह सब चीज कहां पर स्टोर होकर रहती है। जी हां, यह Server में स्टोर होकर रहती है और उनके लिए अलग अलग Server होती है। यदि आप 2015 में यूट्यूब में एक वीडियो अपलोड की है तो आज भी उसको देख पा रहे हैं क्योंकि यह तब से यूट्यूब की सर्वर में अपलोड है और सुरक्षित होकर रही है। बिना सर्वर के इंटरनेट से कुछ भी चीजें देखपाना नामुमकिन जैसा है।

server clients

Server की परिभाषा

सर्वर एक software component और Dedicated Hardware हो सकती है। जो एक क्लाइंट से request आने का इंतजार करता है और रिक्वेस्ट आने के बाद उनको प्रोसैस करके आउटपुट देता है। इसको बोला जाता है सर्वर। सर्वर एक सिर्फ software component या Dedicated hardware नहीं है, यह एक प्रकार का रोल है जो कंप्यूटर Perform करता है। एक सर्वर हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर के रिसोर्सेज को यूजर के साथ शेयर करता है।


सर्वर को अच्छे से समझने के लिए आपको मैं एक उदाहरण देता हूं। आपको एक नौकरी चाहिए और उसके लिए आपको एमएस वर्ड में एक रिज्यूम बनाना है, और उसी के लिए एक रिज्यूम फॉरमेट को डाउनलोड करने के लिए आपको इंटरनेट की सहायता लेना पड़ेगा। तो आप आपका वेब ब्राउज़र में जाकर आप सर्च करेंगे, ‘MS word में रिज्यूम कैसे बनाएं’। इसका मतलब हुआ आप Server को एक वेब ब्राउज़र के द्वारा रिक्वेस्ट की।

तो यहां पर आप हो गए Clients. बहुत सारे लोग ऐसे रिज्यूम फॉर्मेट पहले से इंटरनेट में अपलोड कर चुके हैं। जो कि सर्वर में सुरक्षित रूप में रह चुका है। यहां पर वो आपका रिक्वेस्ट का इंतजार किया और जब आप उसको एक पर्टिकुलर रिक्वेस्ट भेजे तो आपका रिक्वेस्ट को प्रोसेसिंग करके आपको उसका रिजल्ट दे दिया। मतलब server एक मेमोरी डिवाइस की तरह काम किया।

अब कुछ लोग के मन में यही सवाल आ रहा होगा कि हमारा कंप्यूटर मैं भी RAM(Random Access Memory), ROM(Read Only Memory) जैसे बहुत सारे स्टोरेज डिवाइस रहता है, जो की एक मेमोरी डिवाइस की तरह काम करती है। क्या हमारा कंप्यूटर एक सर्वर है? जी बिल्कुल हां। 

आपका कंप्यूटर एक सर्वर है पर को एक लोकल सर्वर है जिसको सिर्फ आप ही एक्सेस कर सकते हैं आपके अलावा दूसरे कोई भी नहीं। यहां पर सर्वर की बात किया जाए तो सर्वर एक ऐसी चीज है जिसका इस्तेमाल करके आप एक निर्दिष्ट डाटा को दुनिया भर लोगों के लिए पहुंचा(Accessible) सकते हैं। 

Different Types of Server In Hindi

अब आप जान चुके होंगे कि Server क्या है। पर Server में भी बहुत अलग अलग कैटेगरी के सर्वर आता है जिनका अलग-अलग काम होता है। तो आइए देख लेते हैं ऐसे कुछ सर्वर को।

  • Proxy server
  • Web Server
  • Application server
  • Database Server
  • Mail Server
  • DNS (Domain name System)
  • FTP server (File Transfer Protocol)
7 Different types of servers in hindi
7 Different types of servers in hindi

Proxy server क्या है

Proxy सर्वर यूजर और इंटरनेट के बीच एक ब्रिज की तरह काम करता है। Proxy सर्वर इन दोनों के बीच एक Gateway की तरह काम करता है। ‘Proxy’ का मतलब होता है दूसरे के लिए तैयार करना या दूसरे के लिए काम करना। और इंटरनेट की दुनिया में हर एक सिस्टम के लिए एक स्पेशल इंटरनेट प्रोटोकोल या IP address रहता है। ज्यादातर लोग प्रोक्सी सर्वर को खुद का आईपी ऐड्रेस को छुपाने के लिए इस्तेमाल करते हैं। आप एक वेबसाइट को एक्सेस करना चाहते हैं जो कि इंडिया में बंद है आप Proxy server की सहायता से इंडिया में होके भी उस वेबसाइट को एक्सेस कर सकते हैं।

Web Server क्या है

वेब सर्वर की मदद से हम वेबसाइट को स्टोर करते हैं। हम वेबसाइट में जितने भी डाटा हो गया या उस डाटा को प्रोसेस करना से लेकर यूजर तक पहुंचने तक सभी काम Web Server में होती है। आप इंटरनेट में जो भी कुछ सर्च करते हैं वहां पर हो जो भी डाटा को प्रदर्शित होता है वह सब Web Server में स्टोर होकर पहले से रहता है।

Application server क्या है

एप्लीकेशन सर्वर का इस्तेमाल हम एप्लीकेशन के लिए करते हैं। Application सर्वर एक प्रोग्राम होती है जो यूजर और डेटाबेस के अंदर जो एप्लीकेशन होती है उनको मैनेज करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

आप 2 साल पहले फेसबुक पर एक फोटो अपलोड की है और यदि आप उसको खुद से डिलीट नहीं किया है तो आज भी आप उस फोटो को देख पा रहे हैं। इसका मतलब फेसबुक एप्लीकेशन मैं आपका जो डाटा है, वह सब फेसबुक का एप्लीकेशन सर्वर में स्टोर हो कर रहा है।

Database Server क्या है

डेटाबेस सर्वर डाटाबेस के ऊपर काम करता है। मतलब डेटाबेस सर्वर में जितने सारे डेटाबेस होते हैं सब स्टोर होकर रहता है। डेटाबेस सर्वर में कोई भी चीज को एक्सेस करने के लिए क्वेरी लैंग्वेज का आवश्यकता पड़ती है। डेटाबेस सर्वर में कोई भी डाटाबेस को एक्सेस करने के लिए कुछ Commands होती है। डेटाबेस सर्वर क्लाइंट का रिक्वेस्ट कमांड्स के रूप में लेती है। SQL(Structured Query language) जैसे Query Language को हम database को एक्सेस करने के लिए और Information Retrieve करने के लिए इस्तेमाल करते हैं।

Mail Server क्या है

मेल सर्वर को ईमेल भेजने के लिए और प्राप्त करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। जितने भी मेल भेजते वक्त और प्राप्त करते वक्त डाटा का इस्तेमाल होता है वह सब मेल सर्वर में स्टोर होकर रहती है। जब आप किसी के पास एक ईमेल भेजते हैं तो वह पहले मेल सर्वर के पास जाता है और मेल सर्वर से प्राप्त करने वाला तक पहुंचती है। मेल सर्वर एक दूसरे क्लाइंट्स तक मेल पहुंचाने के लिए SMTP(Simple Mail Transfer Protocol) का इस्तेमाल करती है।

DNS server क्या है

DNS server क्या है
DNS

DNS server को domain name system server कहा जाता है। DNS server को इंटरनेट का central server भी कहा जाता है। DNS का काम है एक डोमेन नेम को एक IP address में बदलना ताकि एक वेब ब्राउज़र उसको एक वेब सर्वर के साथ connect कर पाए।

FTP server क्या है

FTP server का पूरा नाम होता है File Transfer Protocol. अब इस नाम से भी पता लगा चुके होंगे कि इस server का इस्तेमाल हम एक फाइल को ट्रांसफर करने के लिए कर सकते हैं।

बहुत सारे लोगों का मन में सवाल आ रहा होगा कि कुछ फाइल शेयर करने के लिए कुछ एप्लीकेशन में भी कर सकते हैं पर हम FTP सर्वर को क्यों इस्तेमाल करें। यदि आप इंडिया में बैठ के एक वेबसाइट बना रहे हैं और उस डाटा को अमेरिका में दिखाना चाहते हैं बिना FTP सर्वर की मदद से उसको ट्रांसफर नहीं कर सकते। FTP सर्वर आपको एक यूजरनेम और पासवर्ड Provide करता है जो कि Paid और Free में मिल जाता है इसको इस्तेमाल करके आप आपके कंप्यूटर से एक दूसरे सर्वर तक डाटा को ट्रांसफर कर सकते हैं।

हम पहले से भी FTP के बारे में बात कर सकते हैं यदि आप FTP के बारे में और भी अच्छे से जानकारी लेना चाहते हैं तो आप उसको पढ़ सकते हैं।

server fail/server error/server down क्या है और क्यों होती है।

आप server down का नाम तो जरूर कभी ना कभी सुना होगा। अभी अभी कुछ दिन पहले भी आप यह भी सुना होगा कि फेसबुक इंस्टाग्राम और व्हाट्सएप का सर्वर डाउन हो गया है।

Server Down का मतलब होता है Server जो रिक्वेस्ट क्लाइंट से लेता है उसको ठीक तरह से आउटपुट नहीं कर पाना। क्योंकि डेडीकेटेड सर्वर जो होते हैं यह हर समय काम करते रहते हैं और इनके पास एक सीमित क्षमता रहती है की ये इतनी काम कर पायेगा या इसके अंदर जितने मेमोरी है ये उस हिसाब से क्लाइंट्स का रिक्वेस्ट को हैंडल कर पाएगा।

मैं आपको हमारा दैनंदिन जीवन का एक उदाहरण देता हूं जिससे कि आप उसको और भी अच्छे से समझ पाए। आप एक क्लास रूम में बैठे हैं जहां पर 50 विद्यार्थी बैठ सकते हैं पर अचानक से किसी स्कूल की मीटिंग के लिए यदि उस रूम में 100 विद्यार्थी बैठ जाए तो उस रूम कुछ समय बाद आपको Uncomfortable लगता है और गर्मी भी होने लगता है, यदि उस रूम में Air Ventilation के लिए सुबिधा नहीं है तो। ठीक उसी प्रकार से एक सर्वर काम करता है और सर्वर डाउन होने का कारण भी इस तरह होता है।

अंतिम शब्द

आज हमने जाना कि server क्या है और कितने प्रकार के Server होते हैं। हम जितने सब सर्वर के बारे में बात किया उनको छोड़कर भी और बहुत सारे सर्वर है। आज हमने जो सब सर्वर के बारे में बात किया यह ज्यादातर इस्तेमाल होते हैं और इसके बारे में जानना भी आपको बहुत जरूरी है। यदि आपको हमारा लेख अच्छा लग रहा है तो आप हमारा दूसरे लेख को भी पढ़ सकते हैं। आप हमें सोशल मीडिया पर भी फॉलो कर सकते हैं हम वहां पर भी आपके लिए अच्छे-अच्छे जानकारी प्रदान करते हैं। धन्यवाद।

Write some interesting